Saturday 23 August 2008

एक विडियो पहेली

फिल्मी गीतों पर एक पहेली मैंने पहले पेश की थी । लोगों ने काफ़ी रुचि दिखाई थी । उस चिट्ठे (शैशव) पर अब तक की सर्वाधिक देखी गयी पोस्ट थी वह । विडियो चढ़ाना सीखने के बाद यह एक प्रश्न वाली पहेली प्रस्तुत है । एक मधुर गीत प्रस्तुत है । गीत के बारे में टिप्पणी तो आमंत्रित है ही सवाल भी पूछ रहा हूँ -
गीत कैसा लगा ? यह गीत किसने गाया है ? किस फिल्म का है ?दूसरे और तीसरे प्रश्न के उत्तर वाली टिप्पणियाँ २५ अगस्त को प्रकाशित होंगी ।


5 comments:

  1. गाने के बारे में ज्यादा तो नही पता, पर इसकी धुन "मैं निगाहें तेरे चेहरे से हटाऊँ कैसे" से मिलती है। शायद किसी राग पर आधारित है।

    ReplyDelete
  2. गाने की धुन तो ’तू मेरे सामने है, तेरी ज़ुल्फ़ें है खुली’ के समीप है. य़ह किसी भी हिंदुस्तानी फ़िल्म का गाना नही हो सकता. परिवेश, चेहरों के सांचे, माथे पर बिंदिया लिये एक भी महिला नही, कोई भी पहचान की सूरत नही, एक्स्ट्रा में भी नही.
    (क्षमा करें,हिन्दी फ़िल्मों को घोल के पी गये है)

    ज़रूर पाकिस्तानी फ़िल्म की है हुज़ूर. गाने की धुन भी पचास साठ के दशक के पाक फ़िल्मों में पाये जाने वाली सी. आवाज़ कहीं कहीं जनाब मेहदी हसन साहब सी, मगर उतनी गोलाई नदारद, साथ में कई जगह आवाज़ में लर्जिश,अकारण कंपन.. खां साहब होने की गुंजाईश कम लगती है. हार गये साहाब!!

    ReplyDelete
  3. वो मेरे सामने तस्‍वीर बने बैठे हैं--अपने उकसाया तो गूगल सर्च करना पड़ा । क्‍या करते । चकोरी फिल्‍म का गीत है सन 1967 की फिल्‍म । पाकिस्‍तानी फिल्‍म है ये । मुजीब आलम और फिरदौसी बेगम ने गाया है । अलग अलग । सही है ना ।

    ReplyDelete
  4. पाकिस्तानी फ़िल्म चकोरी, १९६७, गायक मुजीब आलम.

    ReplyDelete
  5. Badhya ghazal hai. Ab aapne sawal kiya hai to kuch jawab to dena padega

    film hai Chakori aur singer hain Muzeeb Alam

    ReplyDelete

पसन्द - नापसन्द का इज़हार करें , बल मिलेगा ।