Sunday 3 January 2010

उम्र कब की बरस के सुफ़ेद हो गई,काली बदरी जवानी की छँटती नहीं !

गुलजार के शब्द ,विशाल भारद्वाज का संगीत , राहत फ़तह अली की आवाज और फिल्म इश्किया का यह गीत

3 comments:

  1. अच्छी प्रस्तुति ! आभार ।

    ReplyDelete
  2. बढियां... मज़ा आ गया.

    ReplyDelete
  3. ऑडियो तो मैंने भी डाला था सर,आपने स्पष्ट तरीके से डाला। शुक्रिया।.

    ReplyDelete

पसन्द - नापसन्द का इज़हार करें , बल मिलेगा ।