Wednesday, 13 August, 2008

रात पिया के संग जागी रे सखी/जाँनिसार अख़्तर/मीनू पुरुषोत्तम

फिल्म प्रेम परबत के लिए यह गीत मीनू पुरुषोत्तम ने गाया है । गीत के बोल जाँनिसार अख़्तर के हैं और धुन जयदेव की । इस फिल्म का 'ये दिल और उनकी निगाहों के साए' ज्यादा चर्चित रहा है । सुधी श्रोता रस लेंगे :


5 comments:

  1. आनन्द आ गया, बहुत आभार.

    ReplyDelete
  2. सुन्दर गीत है।
    स्वतंत्रता दिवस की आपको बहुत-बहुत बधाई।

    ReplyDelete
  3. shabd to miltey hi nahi aisey adhbhut geeton ki tareef ke liye..bahut aabhaar ..bahut baar suna kal se

    ReplyDelete
  4. प्रेम की दुंदुभी तो चहुं ओर बज रही है पर 'सिंदूर तिलकित भाल' के स्वकीय प्रेम की बात ही कुछ और है . और वही प्रेमरस अपने सर्वाधिक सुमधुर रूप में इस गीत में बरस रहा था . आप्लावित हूं . आनंदित हूं . आभारी हूं .

    ReplyDelete

पसन्द - नापसन्द का इज़हार करें , बल मिलेगा ।