Sunday, 3 August, 2008

पिया आ जा सावन आया : रूना लैला के दो गीत

रूना लैला के दो ऋतुअनुकूल गीत :






4 comments:

  1. दादा अदभुत कम्पोज़िशन है.रूना लैला के स्वर के विस्तार को बयाँ करती सी. भारतीय उप-महाद्वीप की इस समर्थ गायिका को हमने क्या प्रोग्राम है आज रात का और दमादम मस्त कलंदर के आगे शायद जाना ही नहीं है.
    एकसान आपका इस आवाज़ के लगभग गुम रहे पहलू को सार्वजनिक करने के लिये.

    ReplyDelete
  2. गज़ब..
    रूना लैला ने कुछ गैर फिल्मी गाने ओपी नैय्यर के संगीत मे गाये थे, क्या उनमें से कोई गीत है आपके पास?

    ReplyDelete

पसन्द - नापसन्द का इज़हार करें , बल मिलेगा ।