Saturday 12 April 2008

रस के भरे तोरे नैन , आप की याद आती रही रात भर

ग़मन फिल्म के दो अत्यन्त मर्मस्पर्शी गीत प्रस्तुत हैं । हीरादेवी मिश्रा का गाया हुआ 'रस के भरे तोरे नैन' तथा छाया गांगुली का गाया 'आप की याद आती रही रात भर'



:

8 comments:

  1. क्या बात है साहब! एक अर्सा हुआ था इन शानदार नग़्मों को सुने.

    "याद के चांद दिल में उतरते रहे
    चांदनी जगमगाती रही ..."

    आज रात के अकेलेपन का बढ़िया इन्तज़ाम कर दिया आपने. शुक्रिया.

    ReplyDelete
  2. रस के भरे तोरे नैन.. आहा! आनन्द आ गया सुनकर।

    ReplyDelete
  3. सुंदर गीत । हमारी यादों में हमेशा गूंजते हैं ये ।

    ReplyDelete
  4. यहां तो आवाज ही नहीं आ रही है.

    ReplyDelete
  5. गमन का गीत सुने तो बहुत दिन हो गए थे। शुक्रिया इसे सुनवाने का।

    ReplyDelete
  6. आप की याद आती रही तो बारहा सुनता रहा हूँ पर रस के भरे तोरे नैन आज आपके सौजन्य से सुनने को मिला। बहुत बहुत शुक्रिया !

    ReplyDelete
  7. बहुत बढ़िया-आभार

    ReplyDelete
  8. दोनों गाने बहुत अच्छे हैं.....

    ReplyDelete

पसन्द - नापसन्द का इज़हार करें , बल मिलेगा ।