Friday 16 July 2010

छोटे चोर द्वारा सुने गये गीत

संगीत कम्पनी वायकॉम द्वारा यूट्यूब और गूगल के खिलाफ़ कॉपीराईट उल्लंघन के एक अरब डॉलर के दावे में न्यू यॉर्क के दक्षिणी जिले की अदालत ने यूट्यूब और गूगल के पक्ष में फैसला दे दिया । अदालत ने कहा कि यह संभव नहीं है यूट्यूब जैसी सेवा देने वाली कम्पनी यह पता करे कि चढ़ाए गये विडियो से कॉपीराईट कानून का उल्लंघन हुआ है। विडियो कम्पनी यदि साबित कर दे कि कॉपीराईट उल्लंघन किया गया है तब उसे हटा लिया जाता है !
हमारी स्थिति भी यूट्यूब जैसी है । किशोरावस्था में बॉबी का छोटा वाला रेकॉर्ड (ई.पी.) बहुत जद्दोजहद के बाद खरीदा था और एस.एल.लोनी की प्लेन ट्रिग्नोमेट्री ,भाग एक के पांचवे अभ्यास का २६वां सवाल बिना किसी की मदद के हल कर लेने पर जीजाजी ने उस्ताद हाफ़िज़ अली खाँ का एक बड़ा रेकॉर्ड पुरस्कार स्वरूप दिया था । डिजिटल जमाने में संगीत या विडियो खरीद कर सुना / देखा नहीं है । अधिकांश इनटरनेट से इकट्ठा किया तथा कुछ डीवीडी भेंट स्वरूप मिल गये । दावा करने पर हटा लेने की शर्त मान कर हम भी संगीत प्रेमियों को इस ब्लॉग के मंच से कुछ पेश कर देते हैं ।
छ: - सात सौ गीतों में से कुछ छाँटना कितना कठिन होगा ! इस तरह की समस्या के लिए संगीत के गहन प्रेमी विनय जैन ने श्रोताओं के बीच ऑनलाईन सर्वेक्षण का तरीका अपनाया है । आज उस सर्वेक्षण की अंतिम तारीख थी ।
विनयजी जितना समर्पण और निष्ठा मुझ में नहीं है । हम ने यह गौर किया कि कम्प्यू्टर और आई-पॉड ने एक हिसाब रखा है - ’सर्वाधिक बजाये गये गीत ’। आज से किश्तों में पेश :


5 comments:

  1. संग भर तुम्हारे दो घडी,बीत गये जो पल..


    धन्यवाद,

    ReplyDelete
  2. वाह ! सही समय पर सही ब्लॉग पर पहूँची मैं-----एक अच्छी शुरूआत मेरे लिए----------
    धन्यवाद...

    ReplyDelete
  3. आई ऋतु सावन की ..अद्भुत ...आभार

    ReplyDelete
  4. दोनों अदभुद गीत। आनन्द आ गया।
    गाने की पूरी जानकारी भी दिया करें। ताकि भविष्य में भी काम आ सके।

    ReplyDelete
  5. सागर भाई ने उचित सलाह दी है ।पहला गीत ऋषिकेश मुखर्जी की फिल्म ’आलाप’ से है,गीत राही मासूम रजा का,संगीत जयदेव का,आवाज कुमारी फ़ैय्याज और भुपिन्दर की। दूसरा गीत ’जब वी मेट’ का है ,प्रीतम और संदेश शांडिल्य का संगीत,स्वर उस्ताद राशिद ख़ान का।शब्द रचना नहीं मालूम।

    ReplyDelete

पसन्द - नापसन्द का इज़हार करें , बल मिलेगा ।