Tuesday 15 November 2011

रस के भरे तोरे नैन , आपकी याद आती रही रात भर

यह दो गीत मैंने काफी पहले पोस्ट किए थे । मित्रूं ने पसन्द भी किए थे । कल उस पोस्ट की लिंक फिर से दी तो पता चला कि इनमें से एक यूट्यूब ने हटा लिया है। सुबह से क्रोम में शॉकवेव का प्लग - इन क्रैश कर गया है । अब प्रयास कर रहा हूं कि उन दो गीतों को नये सिरे से पोस्ट करूं। मित्र इन्द्रनाथ मोदक ने ध्यान दिलाया कि मूल पोस्ट में यूट्यूब इसे हटा चुका है। मित्र का आभारी हूं कि उन्होंने इस पोस्ट की हत्या की खबर दी।

 छाया गांगुली द्वारा गाये गमन फिल्म के इस गीत को राष्ट्रीय पुरस्कार मिला था। धुन जयदेव की है । हीरादेवी मिश्रा का गाया गीत 'आलाप' का है तथा इसका संगीत भी जयदेव का है ।

1 comment:

  1. साझा करने का शुक्रिया! मुझे दोनो गाने बेहद पसंद हैं.हालाँक़ि, आपकी याद आती रही ज़्यादा अच्छा है.

    ReplyDelete

पसन्द - नापसन्द का इज़हार करें , बल मिलेगा ।