Wednesday 16 April 2008

लाली है सवेरेवाली




Get this widget | Track details | eSnips Social DNA

फिल्म अभी तो जी लें
संगीत सपन जगमोहन
गायक किशोर कुमार , आशा भोसले
गीत तू लाली है सवेरेवाली , गगन रंग दे ,तू मेरे मन का
जो सूरज तू मैं धरती तेरी
तू साथी है मेरे जीवन का

तेरे - मेरे बीच की मिटेगी कब दूरी
होती है कुछ तो सनम सभी की मजबूरी
तुम हो निगाहों में कब आओगी बाहों में
तुम में जो हिम्मत हो , मुझसे मुहब्बत हो
सबसे मुझे छीन लो ॥

तेरे ही फेरे करूँ,खिंची हुई मैं आऊँ
देखूँ तुझे दूर से गले ना लग पाऊँ
किसने तुम्हें रोका , कर लो वो जो सोचा
हँसी न उड़ाओ और न जलाओ
आँचल की तुम छाँव दो ॥

5 comments:

  1. वाह !
    जितनी खूबसूरत फोटो उससे कहीं सुन्दर गीत सुनवाने के लिए धन्यवाद ।

    ReplyDelete
  2. बहुत सुन्दर गीत ! सुनवाने के लिये धन्यवाद ।

    ReplyDelete
  3. बहुत सुन्दर गीत है।
    मेरे को ये गीत बहुत पसन्द है।

    अक्सर मै जब भी किसी रोड/ट्रेन यात्रा पर निकलता हूँ, ये गीत मेरी श्रवण लिस्ट मे जरुर होता है। अच्छा गीत सुनवाने के लिए धन्यवाद।

    ReplyDelete
  4. भाई बहुत दिनों बाद इस गीत को पूरा सुना और पढ़ा,अभी तक कभी कदास रेडियो पर यहां वहां आते जाते ये गीत सुना था..पर पूरा गीत सुनकर आनन्द आ गया।

    ReplyDelete
  5. बहुत अच्छा लगा सुनकर,पहले भी सुन ही चुके हैं इस गाने को पर आज पूरा गाना पहली बार सुना और पढ़ा मज़ा आ गया ....धन्यवाद

    ReplyDelete

पसन्द - नापसन्द का इज़हार करें , बल मिलेगा ।